खेड़ा में उसके 11 वर्षीय भाई की उसके भाई ने मोबाइल गेम खेलने के बहाने हत्या कर दी




खेड़ा जिले की घटना से अभिभावकों में हड़कंप मच गया है कि अपने बच्चों को अकेला रखा जाए या नहीं। जानिए क्या था पूरा मामला। एक भाई ने दूसरे भाई को क्यों मारा एक समय था जब बड़े भाई छोटे भाई-बहनों की रक्षा कर रहे थे जब माता-पिता घर से बाहर थे।

लेकिन यहां एक छोटे भाई ने अपने छोटे भाई पर मोबाइल के बीच में पत्थर फेंका और वह बेहोश हो गया. बाद में उसके भाई ने हाथ-पैर बांधकर उसे कुएं में फेंक दिया.मोबाइल के इस दौर में नई पीढ़ी भावहीन होती जा रही है. मोबाइल में खोए बच्चों के माता-पिता के लिए एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया है। खेड़ा में एक भाई ने मोबाइल गेम खेलते हुए भाई की हत्या कर दी. इतना ही नहीं नाबालिग भाई ने 11 साल के बच्चे की हत्या कर शव को कुएं में फेंक दिया.

घटना खेड़ा जिले के गोबलेज गांव की है. एक परिवार ने अपने 11 वर्षीय बेटे के लापता होने की शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है। बच्चा दो दिन से लापता था और उसका कहीं पता नहीं चला। मृतक बच्चे के परिजनों ने गुमशुदा बच्चे की तलाश करते हुए खेड़ा टाउन थाने में शिकायत दर्ज कराई है. दो दिन की तलाशी के बाद पुलिस को कुएं में एक नाबालिग का शव मिला। इसके बाद पुलिस ने किशोरी की हत्या के मामले में आगे की जांच शुरू की। बड़े भाई ने छोटे भाई को पथराव किया।

जांच में सामने आया है कि 17 साल के बड़े भाई ने अपने 11 साल के छोटे भाई की मोबाइल फोन पर गेम खेलने के दौरान हत्या कर दी। छोटे भाई ने छोटे भाई के सिर पर पत्थर से वार किया। फिर उसने अचेत अवस्था में अपने हाथ-पैर बांध दिए और अपने घर के पास एक कुएं में फेंक दिया।

खेड़ा टाउन पुलिस ने नाबालिग के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की है. हालांकि, सावधानी के मामले हैं जब माता-पिता बच्चे को गेम खेलने के लिए मोबाइल देते हैं। कामकाजी माता-पिता अपने बच्चों पर विशेष ध्यान नहीं दे पाते हैं, जिससे अकेले पड़ने वाले बच्चे जिद्दी और आक्रामक हो जाते हैं। इसमें भी नई पीढ़ी का बचपन मोबाइल की वजह से छीना जा रहा है।



Leave a Reply

%d bloggers like this: